Microsoft Word - Meeting of Committee years Mahatma Gandhi.docx

आकार: px
पृष्ठ पर प्रदर्शन शुरू करें:

Download "Microsoft Word - Meeting of Committee years Mahatma Gandhi.docx"

प्रतिलिपि

1 भ रत क र प त र म न थ क व द क मह म ग ध क 150व जय त स स ब धत र य मरण उ सव स म त क ब ठक म स ब धन र प त भवन, 19 दस बर, र प त भवन म आप सभ क व गत ह क ट क वश ष व गत ह, जनक लए भ रत क हर य अपन वतन, अपन प व ज क भ म स ज ड़न क अवसर ह त ह 2. मह म ग ध क 150व जय त क य पक तर पर मन न ह त इस र य स म त क गठन कय गय थ हम सभ क लए यह स नत क वषय ह क पछल लगभग ड ढ़ स ल क अव ध क द र न, र य स म त क म ग दश न म द श- वद श म ब प क वच र एव ज वन-म य क जन-जन तक पह च न म य पक सफलत मल ह इस सफलत क लए म सभ द शव सय और मह म ग ध क त आ थ रखन व ल व व सम द य क कर ड़ ल ग क बध ई द त ह 3. ध नम क अ य त म क य क रण स म त न भ व न त व द कर जय त सम र ह तथ अ भय न क सफल बन य ह म झ वश ष स नत इस ब त क ह क ध नम नर म द न र पत मह म ग ध क व छत म आ थ क एक जन-आ द लन बन दय इस जन-भ ग द र क बल पर द श क व छ रखन क ग ध ज क सपन, प च वष स भ कम समय म, स क र ह रह ह द श क ख ल म श च स म त करन क दश म त क गई 1

2 सफलत एक बह त बड़ स म हक उपल ध ह इस स दभ म क छ और मह वप ण कदम भ उठ ए गए ह पछल क छ मह न क द र न, पय वरण पर स गल-य ज- ल टक क द भ व क ब र म ज ग कत बढ़ ह ग ध -जय त स ज ड़ अन क क य म म य व ओ क उ स ह स यह भर स ह त ह क ग ध ज क वर सत हम र अगल प ढ़य क ह थ म स र त ह 4. ब त 2 अ ट बर क, क त र न ग ध ज क स दर स मन अ प त कए द श और द नय म उनक ज वन तथ क य क, व भ न म यम स, मरण कय ज रह ह उद हरण क लए ग ध ज क 150व जय त वष क उपल म, मह म ग ध क य भजन व णव जन त त न क हए क, व व क लगभग 155 द श म, वह क कल क र न, अपन वर दय ह ग ध -जय त सम र ह और ग त व धय क स दभ म स क त म लय और अ य स ब म लय क य गद न क म सर हन करत ह 5. ग ध ज न आज वन म नवत क हत म क य कय और अपन ल खन क म यम स अपन वच र क ल ग तक पह च य उनक स प ण ल खन 100 ख ड म द कल ट ड व स ऑफ मह म ग ध क न म स अ ज म और स प ण ग ध व मय क न म स ह द म क शत कय गय ह ग जर त म उनक स प ण ल खन क ग ध ज - न अ रद ह क बह त स थ क न म दय गय ह 6. ग ध ज क ज वन भ उनक स द श थ उनक ज वन स ज ड़, ग जर त भ ष क मह न क व और स च ग ध व द उम श कर ज श व र ल खत एक स मरण स झ करन य य ह ग ध ज सव र ज द उठ कर ह थ-म ह ध न क लए स बरमत नद पर ज त थ नद स प न ल न क लए व एक छ ट स ल टय क इ त म ल करत 2

3 थ एक ब र, उनक एक सहय ग, म हनल ल प य, न ग ध ज स प छ, आप इतन कफ यत य करत ह जब क नद म भरप र प न ह? ग ध ज न उनस प छ, म र च हर स फ ह आ, य नह? इस पर प य ज न कह क ह, च हर त स फ ह गय ह तब ग ध ज न कह, फर य सम य ह? य यह ज र ह क हम कई ल ट प न बरब द कर?... इस नद क प न क वल म र लए ह नह, ब क सभ क लए ह यह प न मन य, पश -प य और सभ णय क लए ह... जस क तक स पद पर सबक अ धक र ह उस स पद म स, अपन ज रत स त नक भ य द ल न अन चत ह ग ग ध ज क यह श आज और भ अ धक मह वप ण ह गई ह 7. कभ -कभ यह सव ल उठ य ज त ह क य ग ध ज आज भ स गक ह? म झ लगत ह क ग ध ज क स गकत सद व न व व द रह ह अब यह हम र ज़ म द र ह क हम उनक ज वन स स ख ल और उनक श ओ क अपन आचरण म अपन ए ग ध ज क भ ग लक स म ओ और क ल-ख ड म ब ध नह ज सकत पछल स वष क अव ध म, व व-सम द य म ग ध ज क वल ण य त व और द रदश वच र क त ज ग कत और स म न बढ़त रह ह अपन वद श य ओ म, ग ध ज क च और तम ओ क द खन म र लए स खद अन भ त रह ह ज बय क य क द र न वह क थम र प त क न थ क ड स मलन क अवसर म झ मल उनक अ ययन-क म भ म झ ग ध ज क एक त व र द खन क मल स द र प व म आ लय स ल कर व व क प चम छ र पर थत चल सम त, कई द श म, म झ ग ध ज क तम ओ क अन वरण क तथ उनस ज ड़ सम र ह म स ब धन करन क स अवसर 3

4 भ त ह आ ह व व-सम द य क लए ग ध ज एक क श- त भ क तरह ह 8. ग ध ज ऐस वक स क हम यत थ ज म नवत और क त द न क लए हतक र ह सन 1909 म, जब भ रत म आध नक उ य ग क आगमन ह ह रह थ, तब ग ध ज न अपन प तक ह द वर ज क म यम स द नय क यह स द श दय क व आध नकत स आग भ थ और उसस ऊपर भ सह म यन म उ ह ऐस पय वरण वद कह ज सकत ह ज ह न बह त पहल ह पय वरण-स त लन क मह व समझ लय थ जब क द नय पय वरण स ज ड़ द प रण म क द खन क बह त ब द म सजग ह प ई 9. म यह म नत ह क म नव-सम ज समक ल न च न तय क स मन करन म तभ सफल ह ग जब वह सभ ल ग क त, पश -प य तथ वन प तय क त और इस धरत क त ग ध व द टक ण अपन एग 10. ग ध ज क लए प र द नय म आज इतन आदर इस लए ह क श त, अ ह स और सम नत पर आध रत उनक न त पहल स भ अ धक स गक ह गई ह आज द नय क अन क ह स म व ष और अश त क व त वरण ह प र व व जलव य प रवत न क स कट क स मन कर रह ह व नक सम द य हम र धरत क भ व य क ब र म च त जनक भ व यव णय कर रह ह ऐस च न तय स ब हर नकलन क र त ग ध ज क वच र म मलत ह 11. ए ट नय क ट हम र उन व स सम द य क भ त न ध ह ज ह न ग ध ज क आर भक ज वन म मह वप ण भ मक नभ ई थ जन-स व क त क ट क न ठ और स श सन क लए नई-नई प तय क अपन न क क रण उ ह मह म ग ध क अन य य भ 4

5 कह गय ह म झ यह ज नकर स नत ह ई ह क इस वष प त ग ल न ग ध ज पर म रक टकट ज र करन क लए भ रत स ख द क आय त कय ह ख द सफ एक कपड़ ह नह ह, ब क ग ध ज क वच रध र क त क भ ह ख द क ल क य बन न म ध नम नर म द ज क रण और वश ष भ मक क लए म उ ह बध ई द त ह 12. म आश करत ह क आज क ब ठक म आप सबक वच र- वमश स बह त स नई ब त स मन आए ग म झ प र व व स ह क हम र र पत क स द श आन व ल स दय म भ रत ह नह ब क प र म नवत क रत करत रह ग मह म ग ध अमर रह! उनक आदश हम र अ तर म म सद व व यम न रह! और उनक श ए हम र सतत म ग दश न करत रह! इस क मन क स थ म आप सबक प न व गत करत ह ध यव द जय ह द! 5