Microsoft Word - 047_Ka_Sove_Din_Rain.doc

आकार: px
पृष्ठ पर प्रदर्शन शुरू करें:

Download "Microsoft Word - 047_Ka_Sove_Din_Rain.doc"

प्रतिलिपि

1 क स व दन र न वर हन ज ग र क म ध मद ल भ, छ ड़ सब द द र क स व दन र न वर हन ज ग र भवस गर क आस, छ ड़ सब फ द र फ र चल आपन द स, यह भल र ग र सन स ख पय क प, त बरनत न बन अजर अमर त द स, सग ध स गर भर फ लन स ज स व र, प ष ब ठ जह ढर अ क च वर, ह स र ज जह क टन भ न अ ज र, र म एक म कह उग च अप र, भ म स भ जह स त बरन वह द स, स ह सन स त ह स त छ सर धर, अभय पद द त ह कर अजप क ज प, म उर ल इए मल सख सत प व, त म गल ग इए जगन जगन अ हव त, अख ड स र ज ह पय मल म न द, त ह स सम ज ह कह कब र पक र, सन धरमद स ह ह स चल सतल क, प ष क प स ह धनष-ब ण लए ठ ढ़, य गन एक म य ह छन ह म करत वग र, त नक न ह द य ह Page 1 of 324

2 झ र- झ र बह बय र, म-रस ड ल ह च ढ़ न र गय क ड र, क इ लय ब ल ह पय पय करत पक र, पय न ह आय ह पय बन स न म दलव, ब लन ल ग क ग ह क ग ह तम क र, कय बटव र ह पय मलन क आस, बह र न छ ट ह ह कह कब र धरमद स, ग स ग च ल ह ह ल म ल कर सतस ग, उत र चल प र ह उठ क शब म जम ल -सहर तल श क हज म -ख र म गलह ए र तल श कर लव ए-अ म ढ ढ फर ग -म ह -नज म रद ए-ख क म ल ल -गहर तल श कर हर म -जहन क सब झल मल रह ह चर ग चल तअ लए-श म -कमर तल श कर रब ब -व प छ ड़ तर न -अबद दय र -मग म उ र - खजर तल श कर फर आओ तनतन -खसरव क ड ल तरह फर आओ त वश ज -कमर तल श कर तवह म त क अफसद व दय म "शम म" दम ग -गम - दल मअतबर तल श कर Page 2 of 324

3 उठ क शब म जम ल -सहर तल श कर! ज ग! र त म सबह छप ह, उसक ख ज कर हज म -ख र म गलह ए र तल श कर! ज ग! क ट क झ ड़ म फ ल छप ह, उसक तल श कर लव ए-अ म ढ ढ फर ग -म ह -नज म! ब दल क अ ध र घट ओ म च द न छप ह उठ! उसक तल श कर रद ए-ख क म ल ल -गहर तल श कर! ध ल म ह र दब ह उठ! उसक तल श कर हर म -जहन क सब झल मल रह ह चर ग! ब त बड़ छ ट -स चर ग ह वह भ झल मल त - झल मल त -स, अब बझ तब बझ उसक बहत भर स मत कर उस पर ह ज भर स करक ब ठ गए, भटक गए हर म -जहन क सब झल मल रह ह चर ग चल तज लए-श म -कमर तल श कर इस वर ट अ त व म च द-स रज छप ह व त ह र लए ह, उनक र शन त ह र लए ह व त ह र र त क र शन कर सकत ह पर ख ज कर ग त मल ग ज ग ग त मल ग स य आदम बस अपन छ ट -स ब क टम टम त र शन म ज त ह उस र शन स कछ दख ई भ नह पड़त उस र शन क क ई व त र भ नह ह उस र शन स बस द - च र कदम ज दग क उठ ज त ह, ल कन स य तक क ई पह चन नह ह प त और यह च द-स रज भ छप ह मन य क भ तर बड़ क श क स भ वन ए छप ह अन त क श क त स तम आए ह ज़र च ट करन क ब त ह, और झरन फ ट पड़ ग ज़र च ट करन क ब त ह और व ण तर गत ह उठ ग, प दत ह उठ ग रब ब -व प छ ड़ तर नए-अबद! यह ज समय क व ह, यह ज समय क व ण ह, इस पर अमर व क ग त छ ड़ यह समय क न च ह छप ह अमर व क ल क प छ ह अक ल छप ह दय र -मग म उम - खजर तल श कर! म य क इस ज वन-पथ पर ज ख जत ह, उ ह अम त क त भ मल ज त ह उठ क शब म जम ल -सहर तल श कर हज म -ख र म गलह ए र तल श कर तल श क ब त ह और ज जग, ज उठ, ज न द क त ड़, वह तल श कर प एग धम क इतन ह अथ ह ज दग मलत ह --अवसर क तरह, चन त क तरह ज चन त क व क र कर ल त ह, ज इस अवसर क उपय ग कर ल त ह, उस परम ज वन मल ज त ह Page 3 of 324

4 यह ज दग त उस परम ज वन क र ह इस पर ह मत अटक ज न यह त उस र जमहल क र ह इस र पर ह मत ब ठ रह ज न, नह त भखम ग ह रह ज ओग तम स ट ह न क प द हए ह, उसस कम पर र ज मत ह न ल कन स ट ह न क लए बड़ ध ल-धव स च स झ ड़न ह ग न द और सपन छ ड़ द न ह ग म भ तमस कछ छ ड़न क कहत ह स स र छ ड़न क नह कहत, व न छ ड़न क कहत ह म भ तमस कछ छ ड़न क कहत ह प, ब च, प रव र छ ड़न क नह कहत यह मन क प स, मन क दप ण क प स ज गद -गब र जम गई ह, ज वभ वत जम ज त ह... य कर रह ह हम ज म -ज म स, स दय -स दय स य म य क कपड़ पर ध ल जम ह ज एग यह व भ वक ह इस ध ल-धव स क झ ड़ द और तम प ओग, त ह र भ तर छप ह क हन र त ह र भ तर म लक छप ह जसक तम ख ज रह ह, त ह र भ तर छप ह ख जन व ल म छप ह और तम भ ग चल ज त ह और तमन कभ आ ख ख लकर अपन भ तर ज़र भ टट ल नह इसक पहल क तम जगत म ख जन नकल, एक ब र अपन भ तर त झ क कर द ख ल धम उस झ कन क कल क न म ह इस लए धम क र भ स ह त ह, और अ त भ पर क य अथ ह? क अथ ह ज दख ई नह पड़त, उसक ख ज क ह मत क अथ ह ब ज क ब न क ह मत ब ज म अभ फ ल त दख ई पड़त नह क अथ ह भर स, क ब ज टट ग, क ब ज क कड़ नह ह मगर ऐस त ब ज और क कड़ म य फक दख ई पड़त ह? फक त भ व य म तय ह ग भ व य अभ आय नह ह ब ज क जब क ई ब त ह त भर स क स चन द त ह क इश र ह रह ह क भ व भ गम ह, ब ज क ब न म बड़ ह इस ब त क ह क ब ज टट ग, क कड़ नह ह इस ब त क ह क ब ज म फ ल छप ह, ज कट ह ग अभ दख ई नह पड़त क ई प१३२कर नह कभ दख ई पड़ ग ज अभ अ य ह, वह य ह ग फर ब ज क प न द त ह म ल अब त ब ज दख ई भ नह पड़त फ ल त दर, फ ल क दख ई पड़न त दर, अब त ब ज भ जम न म ख गय ह और ब ज भ दख ई नह पड़त बड़ च हए ब ज भ गय, फ ल क कछ पत नह ह द त ह प न, द त ह ख द -- और त करत ह, और थ न करत ह क अथ ह त ह श य स व त ल प आक श श य ह जब क ई ल ह थ उठ कर आक श क तरफ थ न करत ह, क खबर द रह ह श य उ र द ग भ? वह क ई ह ज उ र द ग? उ र कभ आएग? ल कन क ब ज ड ल रह ह -- इस भर स म, क उ र क फ ल आएग आज नह कल, कल नह परस, द र ह सकत ह, अ ध र नह ह ग ध रज रख ग, भर स रख ग आत ह ग आन ह च हए Page 4 of 324

5 कभ न फल नह गई ह और अगर न फल गई ह, त ज नन नप सक थ रह ह न ह ग ऊपर-ऊपर थ, झ ठ थ, थ थ थ व स रह ह ग, न रह ह ग व स और क वह भ द ह व स क अथ ह त ह --म न लय क न झ झट कर न म नन क, इस लए म न लय ल ग कहत ह, ई र ह अब क न वव द कर, कसक फरसत पड़ ह वव द करन क? समय कसक प स ह? यथ क ब त म पड़न क लए और यथ क ब त म समय ग व न क लए स वध कसक प स ह? चल ल ग कहत ह क ई र ह, त ह ग ; हम भ व स कर ल त ह जब इतन ल ग कहत ह त ठ क ह कहत ह ग व स उध र ह, झ ठ ह, ब ईम न ह क अथ ह त ह, द नय कहत ह क ई र नह ह, स र द नय कहत ह क ई र न कभ थ न कभ ह ग, सब झ ठ ह, सब क पन ह, सब अफ म क नश ह, सब मनगढ़ त ह, सब च लब ज क ईज द ह, सब ध ख धड़ ह, सब प ख ड ह -- स र द नय कहत ह, तब भ नह क पत कहत ह म तल श, म ख ज उठ क शब म जम ल -सहर तल श कर! र त दख ई पड़ रह ह, सबह क कछ पत नह ह और तमन द ख, सबह ज स -ज स कर ब आत ह, र त और गहन और घन ह त ज त ह सबह ह न क ठ क पहल र त सबस य द अ ध र ह ज त ह उठ क शब म जम ल -सहर तल श कर हज म -ख र म गलह ए र तल श कर क ट क झ ड़ म ख जन ज ओग, चभ ग क ट, ह थ लह -लह न भ ह ग फ ल इतन आस न स न त दख ई पड़त ह और न मलत ह फ ल उनक ह, ज ख जत ह फ ल क मत म गत ह और सबस बड़ क मत ह क अथ ह त ह ज मझ नह दख ई पड़त, उस पर भ म र भ तर, क ई अ तरम म क ई कह रह ह -- क ह, ख ज, मल ग यह कह ह ग ह न ह च हए क अथ ह य स ह त जलध र ह न ह च हए जब म र भ तर परम म क प न क आक ह त परम म ह न ह च हए य क बन परम म क हए, इस आक क क ई त नह ह सकत थ इस अ त व म ऐस ह ह नह क य स ह और प न न ह ;भ ख ह और भ जन न ह भ ख क पहल भ जन न म त ह ज त ह द खत ह, म क गभ म ब च आत ह, और तन द ध स भर ज त ह अभ ब च आय भ नह ह अभ ब च क आन म द र ह ल कन तन त य र ह न लग, दध स भरन लग क ई अप व श, क ई छप ह थ, तन त य र करन लग --ब च आएग! अभ ब च ह नह आय, अभ ब च क भ ख क त सव ल ह नह ह ल कन भ ख क बहत पहल, दध क ध र न म त ह न लग Page 5 of 324

6 प य क घ सल बन त द ख ह? वह ह प य क कछ पत भ नह ह क अब समय आ गय अ ड रखन क बस घ सल बनन लग व नक भ च कत ह, य क घ सल बन न इन प य क क ई सख त नह व नक न य ग कए ह क ज स ह अ ड स ब च नकल, उसक उसक म त - पत स अलग कर लय और उस अलग ह बड़ कय, त क क ई सख न क अवसर ह न रह ल कन जब म द गभ वत ह ग, त ण घ सल बन न श कर द ग ब च आत ह ग उनक लए घर त बन न ह ह ग उनक लए न ड़ त बस न ह ह ग अभ ब च आए नह ह आए ग भ य नह, कछ पत नह ह ल कन न ड़ बनन लग अगर तम ज वन क ग र स द ख ग, त तम हर जगह क म ण प ओग ऐस ह मन य क दय म परम म क य स ह मझस कभ ल ग आकर प छ ल त ह क परम म क म ण य ह? म उनस कहत ह, त ह र भ तर अगर परम म क प न क य स ह त पय म ण ह य स म ण ह य स क म ण म न ल न ह अ ध र र त म सबह क ज अभ स ह वह म ण ह क सबह ह ग ज़र हम तल श कर उठ क शब म जम ल -सहर तल श कर हज म -ख र म गलह ए र तल श कर लव ए-अ म ढ ढ फर ग -म ह -नज म रद ए-ख क म ल ल -गहर तल श कर यह -कह ध ल म ह ह र -जव हर त पड़ ह अगर ह र -जव हर त क ख जन क आक प द ह गई ह त ह र -जव हर त ह न ह च हए इस भर स क न म ह यह ज भ ह रह ह, उसम एक अप व स ग त ह क ई वर ट आय जन ह अस ब नह ह घटन ए अ त व अस गत नह ह अ त व क भ तर चलत हआ एक त रत य ह, एक लयब त ह अर जक नह ह अ त व, अनश सत ह इसक अनश सन क द खकर जस खय ल आ ज त ह क कह व अ य ह थ ज र छ प ह ग --ज इन प क र ग ज त ह, फ ल क रस स भर ज त ह, ग ध स भर ज त ह, च द र म र शन ड ल द त ह ब च प द ह त ह, एक चम क र घटत ह कछ स क ड तक म -ब प, च क सक, द ई, एक ह आक स भर रहत ह --ब च कस तरह र द, य क र द त स चल ज ए म क प ट स प द ह न क ब द व द -च र-दस ण, सव धक म यव न ण ह उ ह पर नभ र ह --ज वन आएग क नह, ब च ज ग ग क नह, जएग क नह और क ई हम र बस म, ह थ म हम र ब त नह ह क हम ब च क समझ सक क स ल प गल, क मत! क ई उप य नह ह ल ग त ल ग, नह ल ग त नह ल ग और ब च न कभ Page 6 of 324

7 पहल स ल नह ह म क प ट म म ह ब च क लए स ल न क क म कर रह थ म क प ट स ब च अलग ह गय ह उसक न ल भ क ट द गई ह अब ब च ब कल वत ह अब उस स ल न ह और कस प ठश ल म उस सख य नह गय, वह क स स ल? ल कन स आ ज त ह क न ड ल द त ह इस स क? ब इ बल कहत ह क अदम क बन य म ट स परम म न, फर उसक न स पट म स ड ल, स प क यह कह न सच ह कह न क तरह सच नह ह, अ त वगत प स सच ह हर ब च म क ई स ड लत ह पत नह क न! ज वन क क ई महत ऊज छ प -छ प ब च म स ड ल द त ह यह चम क र र ज घटत ह, फर भ हम अ ध ह हम स स क चलत द ख ल त ह, और जसन स स प क उसक तल श नह करत द ख च र तरफ, सब कतन स ग तप ण ह! इस स ग त क प छ तम स चत ह क ई कशल अ ग लय नह ह ग? आक श क तरफ आ ख उठ कर श य स ज व त ल प कर, वह थ न ह और आ ख ब द करक भ तर क श य म ज ठहर ज ए, वह य न ह मगर द न क श आत म ह क अथ ह त ह ज दख ई नह पड़त जसक ह न क क ई क रण नह, क ई म ण नह ; ल कन ह न च हए, ऐस अप व भ वदश द खत ह तम, र ज ल ग मरत ह र ज तम ल श उठत द खत ह, अथ नकलत द खत ह ल कन फर भ त ह कभ यह खय ल नह आत क म म ग य म मल ह? इतन ल ग मरत ह, ल कन त ह यह खय ल नह आत क म म ग ज र कछ र ज ह इतन ल ग क म य भ यह स नह कर प त त ह र स मन क म मरणधम ह त ह र भ तर कह क ई ह अमर व क य क य अपन अ तरतम म ज नत ह ह क ज वन अमर ह इसक क ई अ त नह तम ख जत नह, तल श नह करत, अ यथ यह त ह र ज वन क स क र बन ज ए रब ब -व प छ ड़ तर नए-अबद! यह ज समय क व ण ह, इस पर छ ड़ स ग त! इन स क भ तर स ल न व ल छप ह इस मरणधम द ह म अम त वर ज ह दय र -मग म उ - खजर तल श कर! यह ज म य क पथ ह --ज म स ल कर अथ तक, झ ल स ल कर क तक --यह ज ज वन क पथ ह, यह त म य क पथ ह मगर इस पर चलन व ल ज य ह, वह अम त ह द ह गरत ह, उठत ह, य चलत रहत ह व बदलत ह, ज ण -श ण ह ज त ह, बदल लए ज त ह, मगर ज भ तर छप ह, चलत ज त ह रब ब -व प छ ड़ तर नए-अबद दय र -मग म उ - खजर तल श कर Page 7 of 324

8 ऐस तल श क लए कस धन क स थ च हए और कब र न ठ क कय क अपन इस अप व श य क, धरमद स क, धन कह, धन धरमद स कह धन व थ, स य त ह न क पहल ख ब धन थ स य त ह त ह स र धन लट दय जब तक स य त न हए थ, तब तक कब र न कभ उनक धन नह कह थ जस दन सब धन लट दय, उस दन कब र न कह क धरमद स! अब त धन ह गय आज स तझ धन धरमद स कह ग य क अब त न उस धन क प लय ह ज तझस क ई भ छ न न सक ग अब त न उस धन क प लय ह क त ब ट कतन ह, चक ग नह अब त न उस धन क प लय, ज श त ह ज गन क लए, कस ज गन व ल क स थ च हए स ग त स खत ह त कस स ग त स स खत ह न! जसक ह थ सध गए ह, उसक ह थ क द खकर, त ह र ह थ भ सधन लगत ह भ स खन ह त कस स स ग म ह स खन ह ग ; जह क क ई उपल ध ह गय ह ; जह फ ल खल गए ह च ह फ ल त ह न भ दख ई पड़, सव स त त ह भ पत चल ग प - प कछ पकड़ म न भ आए, त भ अ प त ह अ य क पगच प सन ई पड़न लग ग धन धरमद स क स थ आन व ल कछ दन म हम य कर ग धन धरमद स अप व य य म एक ह कह ह धरमद स न हम सतन म क ब प र क ई-क ई ल द क स प तल, क ई-क ई ल ग सप र हम त ल द न म धन क, प रन ख प हम र म त - ब द घट ह म उपज, सक त भरत क ठ र न म-पद रथ ल द चल ह, धरमद स ब प र पहल भ य प र करत थ, फर भ य प र कय पहल क य प र करत थ, फर वर ट क य प र कय सतन म क य प र कय य वचन त ह य द दल ए ग क दल ख ल कर लट य ह धन धरमद स न दल ख ल कर ल न भ, त स स ग जम ज एग त त उमग ग त रस बह ग त र त सबह म बदल ग म य क अम त म बदलन क कल धम ह य स र वचन धम क स ब ध म, अलग-अलग दश ओ स इश र ह ग क म ध मद ल भ छ ड़ सब द द र क स व दन र न वर हन ज ग र Page 8 of 324

9 क स व दन र न! हम स ए ह हए ह हम र न द आ य मक ह श र रक न द त दन म टट ज त ह, ल कन आ य मक न द दन म भ ज र रहत ह र त तम आ ख ब द करक स त ह, दन तम आ ख ख ल कर स त ह मगर न द ज र ह र त तम सपन द खत ह, दन तम इ छ ए ; ल कन वन और इ छ ए एक ह स क क द पहल ह वन न द क इ छ ए ह, इ छ ए त ह र तथ क थत ज गरण क व नह इ छ क अथ ह भ व य; ज नह ह, उसम तम ख गए ज नह ह, उसम ख ज न क ह न म त सपन ह ज नह ह, उसम ख गए, त ज ह, उसस च क गए क स व दन र न! धरमद स कहत ह कब तक स ओग? कतन स ओग? र त भ स ए रहत ह, दन भ स ए रहत ह जनम-जनम ब त गए स ए-स ए ज गकर कब द ख ग? और स ए-स ए जस तल श रह ह, वह ज गकर अभ मल सकत ह, त ण, यह और स ए-स ए कभ न मल ग स ए हए आदम और परम म क मलन नह ह सकत इस लए नह क परम म स ए हए आदम स नह मलत स ए हए आदम स भ मलत ह मगर स य हआ आदम पहच न क स? तम न द म पड़ ह, क ई त ह र प स भ आकर ब ठ रह, त ब ठ रह उसक तरफ स त मलन ह रह ह, त ह र तरफ स कछ मलन नह ह रह ह म एक घर म म हम न हआ वह एक म हल क म म गर गई ह क ई न मह न स क म म पड़ ह प त अब भ फ ल ल कर उसक त कए पर रखत ह ब च अब भ उसक प र दब त ह मगर उस कछ पत नह च क सक आकर अब भ उसक न ड़ द ख ज त ह, मगर उस कछ पत नह ऐस ह क म ह त ह र जब तक परम म नह ज न गय ह, तब तक समझन क तम न द म ह ज गरण क एक ह सब त ह क परम म क अनभव ह ज ए, और क ई सब त नह ह इस लए अगर त ह परम म क अनभव नह हआ ह, त समझ ल न क अभ स ए ह और कस ज त य क स स ग कर कस ज ग हए स जड़ ज ओ य क ज ग हआ ह स ए क जग सकत ह क स व दन र न--क ई ज ग हआ ह तमस कह सकत ह क ई ज ग ह त ह हल सकत ह, झकझ र सकत ह क म ध मद ल भ, छ ड़ सब द द र यह ह और ह न द क आध र ह हम द म ब ट ह, इस लए स गए ह ब टन क क रण हम र श बखर गई ह जड़ ज ए, इक ठ ह ज ए, क पर आ ज ए, हम एक ह ज ए --ज गरण ह ज ए हम ख ड-ख ड ह गए ह और हम ख ड-ख ड कसन कय ह? हमन ह कर लय ह क म, ध, मद, ल भ--इ ह न ह हम स भर दय ह मन य सद ह, यह मल ज ए, वह मल ज ए, ऐस ह ज ऊ, व स ह ज ऊ, इसक द ड़ म लग ह उस द ड़ क न म क म ह और अगर त ह र इस द ड़ म क ई ब ध ड लत ह, त ध उठत ह तम धन प न च हत ह और क ई तय गत करत ह ब ज र म Page 9 of 324

10 तमस तम पद प न च हत ह, क ई चन व म त ह र खल फ खड़ ह ज त ह, त ध प द ह त ह तम ज प न च हत ह, उसम क ई ब ध ड ल रह ह, त श त प द ह त ह क म म ल ह --हम र स र न क फर क म स और-और च ज प द ह त ह ज ब ध पड़ ग, त ध प द ह ग और ब ध त पड़ ग ह, य क यह अन त ल ग हम र ज स ह क म ह व भ उ ह च ज क प न चल ह जनक तम प न चल ह हर य र प त ह ज न च हत ह हर य ध नम ह ज न च हत ह अब स ठ कर ड़ क द श म एक आदम ध नम ह ग एक क छ ड़कर ब क त द ख ह न व ल ह और ब क बदल भ ल न व ल ह इस लए ज य पद पर पह च ज त ह, उस जनत कभ म नह करत कर नह सकत पद पर जब तक रहत ह, तब तक ज -हज र करत ह, य क करन पड़त ह पद स उतरत ह ज त फ कन श ह ज त ह और तम मज द खन, ऐस य य पर ज त फ क ज त ह जनक तम स च भ नह सकत थ ज कल तक दसर पर ज त फ कव त रह थ, ज कल तक ज त फ कन व ल क सरद र थ --उन पर ज त फ क ज त ह ज स ह त ह र ह थ म स आत ह, त ह र स थ जतन ल ग चल रह थ स क तल श म, व सब न र ज ह ज त ह जब तक त ह र ह थ म स रह ग तब तक झक-झक कर नम क र कर ग करन पड़ ग जसक ल ठ उसक भ स ल कन जस दन त ह र ल ठ छन ज एग, उस दन त ह पत चल ग क त ह र क ई म नह उस दन ज ह न त ह सह र दय थ कल तक, त ह पद- त तक पह च य थ, व ह त ह र श ह ज ए ग ज त ह र त त करत थ, व ह त ह ग लय द न लग ग य ह क रण इसक प छ? क रण स प१३२ ह पद थ ड़ ह अब क ई यह प छ सकत ह त पद य द य नह ह? पद य द ह सकत ह, ल कन तब उनम मज चल ज त ह ज स घ षण कर द ज ए क ह द त न म सभ ल ग र प त ह मगर तब उसक मज चल गय उसक मज ह इसम ह क जतन थ ड़ ह, जतन य न ह, उतन ह मज ह समझ क क हन र ह र र त पर पड़ ह, क कड़-प थर क तरह, त बस यथ ह गए फर इ ल ड क मह र न क र ज-मकट म लग ए रखन क क ई ज रत नह रह ज एग फर त क ई भ र ह क कन र स उठ ल क कड़-प थर क म य य नह ह? ज़र स च, द नय म अगर एक ह क कड़ ह त, कतन ह क प, त कस र जमकट म जड़ ज त ह र भ क कड़ ह ह, बस व य न ह यह उनक ख ब ह स न और प तल म और कछ भ द नह ह प तल य द ह, स न य न ह ज च ज य न ह, वह अह क र क बलवत बन त ह म र प स ह, और कस क प स नह ह! जतन य न ह त ज त ह च ज, उतन य द अह क र क मज आन लगत ह जब तम आ खर शखर पर पह च ज त ह, जह तम अक ल ह और क ई भ नह, तब अह क र क बड़ रस आत ह Page 10 of 324

11 अह क र क रस ह क म फर क म क बहत प ह क म क तम सप स स ह और य न मत समझ ल न वह त एक प ह क म क अन त प ह ज वन क स र व त र, ज वन क स र, ज वन क स र स घष, ह स, उप व-- क म ह ह ज ब ध बन ज एग, वह द मन उस पर ध प द ह ग और अगर तमन स र द मन क सम करक प लय, जसक तम प न नकल थ, तमन अपन क म क प त कर ल, त मद प द ह ग त सर उप व श हआ मद क मतलब ह क म सफल ह गय तम र प त ह न च हत थ और ह गए, त मद प द ह ग मद क मतलब ह त ह क द ख, तमक कस क भ नह मल प य, और मझ मल गय! त ह र छ त फ ल ज त ह त ह र च ल बदल ज त ह त ह र र ग- ढ ग बदल ज त ह सफल र जन त य द ज त ह, असफल ज द मर ज त ह सफल ह त स ह उनक उ दस स ल बढ़ ज त ह एक नश प द ह त ह अब ज न म मज आत ह अब ज न क कछ अथ म ल म ह त ह यह ज न कर तम च कत ह ओग क अलग-अलग सम ज म अलग-अलग तरह क ल ग य द ज त ह इस पर बड़ मन व नक व षण हआ ह य न न म द श नक ल ब ज त थ, य क य न न म द श नक क बड़ त थ सकर त और ल ट और अर त और ह र ल इतस और प म नड ज और प इथ ग रस, य न न म द श नक ल ब ज त थ उसक त थ क व भ ल ब ज त थ उनक भ बड़ त थ ह द त न म ऋ ष-म न ल ब ज त रह उनक त थ तम यह मत स चन क ऋ ष-म नय क प स कछ य गक व थ, जसस व य द ज त थ न समझ क बकव स ह त थ, स म न थ र ज भ आकर ऋ ष-म न क चरण म झकत थ य ग इ य द क इसम कछ ह थ नह ह य क य न न म द श नक क ई य ग नह करत थ, व य द ज त थ उस तरह य द ज त थ ज स ह द त न म ऋ ष-म न य द ज त थ अमर क म यवस य सबस य द ज त ह धन आदम अमर क म क व च ल स स ल क आस-प स ट य-ट य फस ह ज त ह इस पर मन व नक श ध हई ह और बड़ चम क र अनभव ह त ह क ऐस य ह ज त ह? अमर क म कह न क र, क व, ल खक, द श नक नह य द ज प त अमर क म य त ह द श नक क? धन एकम दश न ह त जसक प स धन ह, वह ल ब ज त ह तम द खत ह, ह द त न म फ म अ भन त द र तक जव न रहत ह क ई य ग स ध रह ह? क ई य ग नह स ध रह ह ल कन फ म-अ भन त क त ह, स म न ह वह य द द र तक जव न रहत ह पच स स ल, पचपन स ल क ह ज त ह, और फ म म प च स स ल क जव न क क म करत ह -- क ल ज क व थ! फर ज ज चत ह स र द नय म ऐस ह रह ह अ भन त ल ब ज न लग ह र जन त भ ल ब ज त ह जनक प स क म क त ह ज त ह, स प नत ह ज त ह, ज पह च ज त ह, व छत Page 11 of 324

12 ल य क प ल त ह, उनम मद प द ह त ह अह क र जल न व ल स ज वन ह इस लए त ज य परम नर-अह क रत क ह ज त ह, उसक शर र स वद ई श ह ज त ह उसक मद टट गय शर र स उसक स ब ध उखड़ ज त ह, ज स भ म स व उखड़ गय और फर दब र उसक आगमन नह ह त य क आन क लए मद च हए मद ह न रह इस लए ब फर दब र नह ज मत ज म नह सकत और ज मद क अव थ म पह च गय, जसक अह क र त ह गय, उस ल भ प द ह त ह ल भ क मतलब ह त ह ज मझ मल गय वह त म र प स रह ह, और य द मझ मल ज ए ज म ह गय वह म स न च नह उतरन च हत, म यम ह ज न च हत ह ज क बन ट म पह च गय, क य, वह अब वह स नह हटन च हत उसक द क म ह अब, द ह ज वन ल य ह जह पह च गय वह प र जम कर अड़ रह अगर आग ज सक, त ह उस पद क छ ड़ सकत ह, प छ न ज न पड़ त उसक द क म ह जह ब ठ ह वह त पकड़ कर ब ठ रह और आग क ई ब ठ ह त उसक ध क द त रह क क ई जगह ख ल ह ज ए त वह आग पह च ज ए ल भ क अथ ह त ह ज ह उस ज र स पकड, क कछ छ ट न ज ए जतन मल गय ह, उसम स छ ट न और जतन अभ आग और पड़ ह, वह भ मल ज ए ल भ क क ई अ त नह ह य क ऐस क ई जगह नह ह, जह त ह र क पन त ह सक तम कह ग य? कस आदम क प स द नय क सबस य द स प ह ज ए, फर त नह ह ग? नह ह ग य क अगर एक ह व सन ह त त म मल हल ह गय ह त व सन ए अन क ह ज स समझ, न प लयन क ऊ च ई ज़र कम थ --प च फ ट, द इ च बड़ स ट, बड़ स य; मगर यह प ड़ उसक थ जब भ कस आदम क ज़र ल ब द ख ल त, उसक घ व लग ज त उसक बड़ च ट लग ज त थ अब वह इस स पर श न रह ज दग भर उसक ज वन-कथ लखन व ल ल खक लखत ह क यह उसक आ स शन थ यह बस उसक एकम र ग थ, क क ई उसस ल ब आदम न दख ई पड़ ज ए उसन अपन जनरल ऐस चन थ जनक ऊ च ई कम थ क ई ल ब जनरल उसक बद त क ब हर ह ज त थ, य क उसक प स अगर खड़ ह ज ए त वह छ ट म ल म पड़त थ अब द खत ह, स य ह, स पद ह, सब ह, त भ एक छ ट -स ब त छ ट कर सकत ह! धन ह, पद ह, त ह, और एक भख र म त च ल स चलत हआ र त स नकल ज ए औरर ई य प द ह ज एग य तम कस क गहर न द म स य हआ द ख ल, एक मजदर, ज अपन ठ ल -ग ड़ क र क कर, भर दपहर म उस क न च पड़ स गय ह और मज स स रह ह और र त चल रह ह, क र नकल रह ह, और भ प बज रह ह, श रगल मच रह ह, मज स स रह ह और तम र त-भर अपन ब तर पर करवट बदलत ह, और न द नह आत ब च न ह गई,र ई य जग गई Page 12 of 324

13 अम र आदम गर ब स र ई य करत ह, यह ज नकर त ह ह र न नह ह न च हए अम र आदम सद ह स चत ह गर ब बड़ मज म ह, बड़ सख-च न म ह गर ब अम र स र ई य करत ह व स चत ह अम र बड़ मज म ह मज म यह क ई भ नह ह द ह त क आदम स चत ह शहर म ल ग मज ल ट रह ह मज ब बई म ह ब बई म ज रहत ह वह स चत ह ग व म क स श त! क स व भ वक स दय! ज ग व म रहत ह उस क ई व भ वक स दय नह दख ई पड़त क चड़-कब ड़ और ग बर और म खय और म छर, बस यह दख ई पड़त ह शहर म रहन व ल क व जब ग व क स ब ध म क वत लखत ह, उनम न म छर आत ह, न गद -गब र, न गरम, न ग बर, न र त पर मलम, क चड़, कछ भ नह आत उसम सप फ ल द हन क तरह सज खड़ ह त ह ह रय ल फ ल ह त ह सख-श त छ य ह त ह यह कस भ य क त मलन स भव नह ह य क ज त ह र प स ह ग, उसस बहत कछ श ष रह गय ह सच त यह ह तम जब एक च ज क प न म लग ज त ह, त त ह र स र ऊज उसम लग ज त ह और स र अ य ज वन क अ ग अप ग रह ज त ह ज आदम धन प न ज त ह, अकसर म ढ़ ह त ह य क स र ऊज त धन प न म लग गई, ब म कम न क अवसर कह रह? ज आदम ब म न ह न म लग ज त ह, अकसर अ य वह रक ह ज त ह य क स र ऊज त ब म न ह न म लग गई, य वह रकत कह स खत? समय कह मल? ज दग म जब हम चन व कर ल त ह, त ब क च ज ज छ ट गई ह, एक दन न एक दन उनक प ड़ सत एग और इसस प द ह त ह पहल त क ई व सन प र नह ह त, और सद आग कछ श ष रहत ह फर प र क ई व सन ह भ ज ए त अन त व सन ए अध र रह गय ह ज प र ह ग, वह त भ ल ज त ह ; ज अध र रह ग व क ट क तरह चभत ह क म ध मद ल भ, छ ड़ सब द द र क स व दन र न, वर हन ज ग र धरमद स कहत ह ज ग! कब तक झ लत रह ग? कब स तम व त झ ल रह ह! कतन दन स द ड़त -द ड़त थक गए ह, टट गए ह! ज वन त ह र कतन अथ ह न ह गय ह! अब ज ग! द त न -हय त कछ त ह स रत -व कय त कछ त ह गलत अ द ज ह सह ल कन Page 13 of 324

14 नगह -इ तफ त कछ त ह न सह इशरत -हय त मगर फक -म त -हय त कछ त ह ह त ए-ब सब त कछ भ नह ह त ए-ब सब त कछ त ह महब न ह महब न य महब न म ब त कछ त ह द लत -दद मल गई "श स " ह सल -क यन त कछ त ह यह कछ ह थ आत कभ लगत नह द त न -हय त कछ त ह! ज वन कथ यह ह य? द त न -हय त कछ त ह स रत -व कय त कछ त ह यह कछ कभ घटत ह नह सपन म कह कछ घट सकत ह? समय ह ज य ह त ह त ह र स र ज वन एक र म थल ह भवस गर क आस, छ ड़ सब फ द र इस स स र स आश बन रख ह, त फर तम स ए रह ग वह आश न द ह भवस गर क आस--यह कछ मल ज एग, यह कछ मल सकत ह! कभ कस क नह मल सक दर भ ख ल ह थ ज त ह धनप त भ द र मरत ह स ट भ भखम ग ह रह ज त ह यह कभ कस क कछ नह मल ल कन एक आश ह, ज जलत रहत ह भ तर कस क न मल ह, मझ श यद मल ज ए भवस गर क आस, छ ड़ सब फ द र इस आश क फ द ह, ज आद मय क गद न म अटक ह और स ल लग हई ह इस आश स ज म ह गय, वह स स र स म ह ज त ह म तमस स स र स भ गन क नह कहत इस आश क छ ड़ द,इस आश क गर द और य न रखन, एक भ ल अकसर ह ज त ह ल ग आश छ ड़ द त ह, त नर श पकड़ ल त ह नर श आश क ह उ ट प ह नर श आश ह ह --श ष सन करत हरइ, सर क बल खड़ हई अगर आश सच म ह छ ट गई त नर श भ उस क स थ छ ट ज त Page 14 of 324

15 ह व एक ह स क क द पहल ह तम एक पहल नह बच सकत और एक पहल नह छ ड़ सकत य त द न बचत ह, य द न छ टत ह अगर त ह क ई ध म क आदम नर श म ल म पड़ त समझ ल न वह ध म क नह ह वह स स रक आदम ह ह आस उसन छ ड़ नह ह ; सप आस क पहल क छप लय ह और नर श क पहल क ऊपर कर लय ह स क उ ट कर लय ह, बस असल ध म क आदम न त जगत स आश रखत ह और न नर श आश - नर श स ज म ह गय, वह क ब हर ह वह ज गरण फलत ह भवस गर क आस, छ ड़ सब फ द र फ र चल अपन द स यह भल र ग र और जब यह क आश - नर श छ ट ज एग, त जड़ उखड़ ज ए ग स स र म हम र जड़, हम र आश - नर श ए ह जड़ उखड़त ह " फ र चल आपन द स" फर अपन द श क य श ह उसक य द जग ज ए तम म, त वरह क ज म हआ इस लए धन धरमद स कहत ह वर हन ज ग र! कस कदर दर ह स त मजब र ह ज बए-इ क स श ल ए र ह क ई पद नह फर भ म त र ह ह स रह ह मगर र ज स च र ह त र शकव नह खद ह मजब र ह हम अपन ह ह थ स अपन प र क ट लए ह अपन ह ह थ स अपन प ख त ड़ लए ह हम अपन ह ह थ स मजब र ह गए ह हम अपन ह ह थ स दर ह गए ह Page 15 of 324

16 आश क ज न द य इतन क फ नह, जतन तमन द ख ह? हर ब र आश ह रत ह, मगर फर तम उस पन ज वत कर ल त ह धन प न च ह थ, प लय --और कछ नह प य और दखत ह, कछ नह प य मगर तब तम नय आश बन ल त ह क श यद पद प न स कछ ह ज ए पद प ल त ह, और द खत ह कछ नह प य मगर फर स चत ह, श यद यश प न स कछ ह ज ए ऐस तम आश ए बदलत रहत ह ; करवट बदलत रहत ह, मगर आश म ज त नह ह ; कस न कस प म ज वत रहत ह ; कस न कस प म जलत रहत ह तम उसम त ल ड लत ह रहत ह सन स ख पय क प, त बरनत न बन अजर अमर त द स, सग ध स गर भर फ र चल आपन द स! धन धरमद स कहत ह चल! अपन द श व पस चल यह हम र घर नह यह हम र द श नह हम कह और स आत ह हम ह स ह कस म नसर वर क और यह तल य म ब ठ गए ह --क चड़-भर तल य म! हम ह स ह, ज म त चग ह स त म त चग! और यह क कड़-प थर पर च च म र रह ह हम ह स ह, ज म नसर वर क व छ जल म त र हम यह क चड़ म ब ठ ह हम बगल क स थ ब ठ ह सन स ख पय क प! धन धरमद स कहत ह क म अपन द श द ख कर आय म अपन द श म पह च गय ह और य र क प तम स कहन च हत ह तम कस म उलझ ह? तम कन प म उलझ ह? त ह पत ह नह क क न वर ट तम त ह र त कर रह ह! तम क कड़-प थर ब न रह ह? स र स य त ह र ह तम आक ए कर रह ह! वर ट तम पर बरसन क आतर ह सन स ख पय क प! त कहत ह, म तझस कहत ह क सन, उस य र क प सन! ल कन बड़ तकल फ ह "त बरनत न बन " द ख त ह, व द त लय ह, आ ख त भर ह उसक प स ; ल कन वण न करत नह बनत, श द म नह आत, श द म नह अटत व तस वर म यक यक आ गए ह क स रत बदल कर रह गई य न म एक झलक आ ज त ह उनक क जह नरक थ वह वग ह ज त ह व तस वर म यक यक आ गए ह क स रत बदल कर रह गई Page 16 of 324

17 नरक एकदम वग ह ज त ह कहत नह बनत हम र भ ष नरक क ह और अच नक वग ह ज त ह! हम रह अ धर र त म और अच नक सबह ह गई क स कह? हम त अ ध र ह ज नत ह अ ध र क हम र भ ष ह अ ध र स हम प र चत ह इस र शन क क स कट कर? भ ख क त ह गई, क स कह? य स क जल मल, क स कह? पहल त कभ जल मल न थ, पहल त कभ त हई न थ अत क भ ष त हम र प स ह इस लए तमन एक ब त द ख? ल ग क अगर झगड़ क लए उकस न ह त भ ष बड़ कशल ह अगर ल ग क कहन ह क चल घर व कर, हड़त ल कर, प थर फ क, म जद म आग लग द क म दर मट द, क ह द म र ड ल क मसलम न क ट ड ल -- भ ष बड़ कशल ह ल ग एकदम त य र ह ज त ह व कहत ह कह ह म जद? कह ह म दर? ल ग त उबल रह ह घ ण स उनक क ई भ न म, क ई भ बह न च हए और जब ल ग न र लग न व ल ल ग क प छ चल ज त ह त न र लग न व ल ल ग समझत ह क क ई बड़ त ह रह ह क ई त यह कभ नह ह त यह त सप घ ण क भ ष ल ग समझत ह ; इस लए घ ण क भ ष ब ल, स थ ह ज त ह ल ग क य न समझ ओ, हज र क समझ ओ, एक-आध स थ ह त ह ल ग क घ ण भड़क ओ, एक क समझ ओ, हज र चल आत ह ल ग क उकस न ह, भड़क न ह, त भ ष बड़ क रगर ह तम द खत ह, र जन त ओ क कतन ल ग सनन ज त ह! ल ख ल ग सनन ज त ह! वह भ ष ह स क ह, भड़क न क ह र जन त बड़ स न भ ह ज त ह, जब ल ग भड़क ज त ह स चत ह क श यद उ ह न क ई बहत बड़ क म कर दय मन य-ज त क हत म उनक पत नह ह क ल ग त भड़कन क त य र ब ठ ह ल ग लड़न क त य र ह ल ग मरन -म रन क त य र ह उनक बह न च हए, न म च हए! क ई भ न म ह, कह भ लड़ द, व लड़ ग और भ ष बड़ कशल ह ल कन जब श त क ब त कर त भ ष एकदम नप सक ह और जब म क ब त कर त भ ष एकदम यथ ह न लगत ह और जब परम म क भ ष म ल न क क शश कर, परम म आत ह नह ह सन स ख पय क प, त बरतन न बन फर भ धन धरमद स कहत ह कह ग कछ त कह ग कछ इश र सह कछ भनक पड़ ज ए अजर अमर त द स! वह द श ऐस ह जह न क ई ब ढ़ ह त ह, न क ई म य कभ घटत ह अब खय ल रखन, इसम हम नक र श द क उपय ग करन पड़ रह ह स र परम नय क नक र मक भ ष ब लन पड़त ह यह त नह कह ज सकत क परम म क स ह, ल कन यह कह ज सकत ह क क स नह ह सबह ह गई स रज नकल आय ज सद र त ह र त रह थ, ज र त क चमग दड़ ह, य र त क उ ल ह, वह अगर खबर द त Page 17 of 324

18 य खबर द! वह यह कह ग वह र त नह ह, वह अ ध र नह ह यह त स र भ ष ह अब तक स र श न इसक उपय ग कय ह "अजर"--वह जर नह ह "अमर"--वह म य नह ह नक र इस लए तम द ख ग, श म सद नक र मक भ ष ह परम म क स ह, प छ ; और श बत त ह, क स नह ह तम कछ प छत ह, श कछ कहत ह क रण? क रण यह ह हम र भ ष स स र क लए बन ह, स स रक न बन य ह इसम उस अल कक क पकड़ ल न क उप य नह ह यह क पकड़ प त ह, वर ट इसस छ ट ज त ह और अगर वर ट क जबद त इसम सम न क क शश कर त वर ट मद ह ज त ह सग ध स गर भर! दसर उप य यह ह क ज छ ट -म ट सख क अनभव यह हए ह उनक हम बहत बड़ करक कह यह सग ध त स गर-भर नह ह त ; ब द-भर सग ध मल ज ए त बहत वह स गर भर ह एक दसर उप य यह ह कहन क, क ज यह छ ट -म ट ह, वह वह बहत ह स भ ग म थ ड़ सख मलत ह, त वह अन तगन स भ ग क सख! म म यह थ ड़ -बहत सख मलत ह, वह अन तगन म क सख सग ध स गर भर! फ लन स ज स व र, प ष ब ठ जह फ ल क स ज ह फ ल इस जगत म सबस य द अप थ व व त ह इस लए फ ल क हमन थ न म प ज क लए चन ह इस जगत म फ ल सबस य द अप थ व ह, अप दग लक, इमम ट रयल व त ह फ ल क द खकर लगत ह न, कतन न जक सपन लगत ह ज स स क र हआ छ ओ त क हल ज ए त ड़ क मरझ ज ए सबह थ और स झ प ख ड़य झर ज ए ग और ख ज एग फ ल ऐस लगत ह क कछ ऐस ह रह ह ज ह न नह च हए प थर ब कल ठ क म ल म पड़त ह इस द नय म म ज लगत ह उनक स ग त दख ई पड़त ह फ ल ऐस लगत ह अजनब ह, कस और द श स आय ह णभर क आ गय ह, भटक गय ह ज स र ह स, फर वद ह ज एग! प थर यह क यह पड़ रहत ह --श त ह फ ल णभ गर ह फ ल क खल वट, फ ल क र ग--सब अल कक म ल म ह त ह फ ल क ग ध, फ ल क क व र पन! फ लन स ज स व र प ष ब ठ जह! वह म लक... प ष य न परम म, फ ल क स ज पर ब ठ हआ ह ढर अ क च वर, ह स र ज जह ह स पह च गय ह व पस म नसर वर म भ ल गय व सब द ख - व न त ल ल य क छ ड़ दय स ग-स थ बगल क, ज त ह गय ह क टन भ न अ ज र... और ज स कर ड़ स रज एक स थ जल उठ ह द खन, वह..इस एक स रज स क स कह उस क श क! त य त कहत ह अ ध र नह ह वह और य फर कहत ह क कर ड स रज वह एक स थ जल उठ ह Page 18 of 324

19 क टन भ न अ ज र, र म एक म कह एक र ए -भर जगह नह ख ज सकत जह अ ध र ह र शन ह र शन ह उग च अप र... और गनत नह ह सकत, इतन च द उग ह भ म स भ जह जह श भ क ह भ म ह, जह स दय क ह भ म ह! स त बरन वह द स... श ह वण, सफ द ह वह द श समझन श र ग व तत एकम र ग ह श ष सब र ग उस क अ ग ह, ख ड ह इस लए तमन कभ द ख, वष क दन म स रज नकल आए और वष ह त ह, त इ धनष बन ज त ह इ धनष य ह? स रज क करण हव म झ लत हई प न क ब द म स टट ज त ह स त र ग म अगर तम स त र ग क एक प ख बन ओ, जसम स त प ख ड़य ह स त र ग क और उस प ख क बजल स ज र स चल ओ त स त र ग ख ज ए ग और सफ द र ग कट ह ज एग सफ द र ग एकत क त क ह, अ त क त क ह यह जगत सतर ग ह यह सब च ज ख ड-ख ड ह गई ह वह सब च ज फर पन इक ठ ह गई ह स त बरन वह द स... वह द श त ह स ह सन स त ह वह क स ह सन भ सफ द ह स त छ सर धर... और वह श त ह मकट भ ह अभयपद द त ह और वह पह चत ह भय वल न ह ज त ह भय ह ह य -- सव य म य क? म य ह जह नह वह भय भ नह कर अजप क ज प, म उर ल इए उस द श म क स पह च ग? उस य र क क स प ओग? कर अजप क ज प ऐस ज प स ख जसम श द नह ह त ऐस ज प स ख, जसम व ण स ज त ह जह व ण स ज त ह, वह च त य ज गत ह जह श द ख ज त ह, वह श य झ क त ह त ह थ न तभ प रप ण ह त ह, जब सब श द ख ज त ह थ न जब प ण ह त ह त प रप ण ह त ह थ न जब श य ह त ह त प रप ण ह त ह थ न क श य ह न ह प ण ह न ह तमन अगर कछ कह थ न म, उतन ह दखल ड ल द थ न म कछ कहन क ज रत नह ह उसस कहन य ह? ज ह, वह ज नत ह शक यत य करन ह? शकव य ह? म गन य ह? जतन दय ह, उसक ह त ज ल जतन दय ह, उस ह त भ ग ल जतन दय ह, उसक ह त भजन कर ल जतन दय ह, वह अप र ह वह त ह र प म कह सम रह ह? वह त त ह र प स बखर ज रह ह म ग मत, कह मत चप झक ज ओ गहन च प म झक ज ओ उस झकन म ह अजप ज प ह कर अजप क ज प, म उर ल इए बस इतन ह ब त रह श द त न ह, म ह दय म म क झ क र ह ब खबर म जल -मकस द नह दर मगर आलम ह श स ह त क गजर ज न द Page 19 of 324

20 यह ज तमन समझद र बन रख ह अपन, जसक तम ह श कहत ह, जसक तम ब म न कहत ह, य ज तमन ग णत बठ रख ह --यह ज तमन हस ब- कत ब ज दग क कर रख ह --इस सब क ज न द म क मतलब ह त ह गय हस ब- कत ब, गए ग णत, गए तक म ह अतक म द न ज नत ह, म गन नह ज नत तक म गन ज नत ह, द न नह ज नत तक क ज स ह म द त ह जब तम परम म स कछ म गत ह, तब म क ब त नह ह यह म म गत ह नह म म गन ज नत ह नह कर अजप क ज प, म उर ल इए मल सख सत प व, त म गल ग इए और तभ म गल ह ग, तभ उ सव ह ग उसक पहल सब उ सव झ ठ ह वव ह ह रह ह, तम ब ड-ब ज बज रह ह य कर रह ह? उसक पहल सब वव ह झ ठ ह उसक स थ ह भ वर पड़ त भ वर पड़ ब त क उ सव मन रह ह उ सव ज स यह य ह? मन क समझ ल त ह श रगल मच ल त ह स चत ह, बड़ आन द आ रह ह न त आन द आ रह ह, न पहल कभ आय ह, न आग इस ढ ग स जए त क ई आश ह मगर फर भ आदम क उ सव मन न पड़त ह --द व ल ह, ह ल ह थ ड़ समझ ल त ह अपन क य उ सव ध ख ह घर पर दए जल लए, द पम ल ए सज ल, फट ख फ ड़ लए ऐस अपन क त प द कर रह ह उ सव क? भ तर दव ल नकल हआ ह, ब हर द व ल मन रह ह कसक ध ख द रह ह, इस लए एक-आध दन मन ल त ह, फर दसर दन वह म तम, फर वह महर म च हर! चल!... यह त ह र उ सव त ह बदलत कह ह? यह उ सव ह झ ठ ह मगर आदम क मजब र म समझत ह ज दग ब कल बन उ सव क ह त ज न दभर ह ज ए त हमन झ ठ उ सव बन लए ह चल बह न सह असल नह त नकल सह धरमद स कहत ह कर अजप क ज प, म उर ल इए म ह दय म और झकन ह ज ए--श त, म न, बन श द क, बन म ग क, समप ण ह ज ए... मल सख सत प व... त उस य र स अभ मलन ह ज ए, इस ण मलन ह ज ए और वह मलन ह, त म गल ग इए फर उ सव ह फर ज वन मह सव ह फर यह आन द ह आन द ह और रस क ध र ह ध र ह फर न च और ग ओ और गनगन ओ फर फ ल खल ग त ह र य व म फर सग ध बखर ग फर द ए जल ग फर आई दव ल फर ख ल र ग स फर आई ह ल झ ठ ह लय म मत उलझ और झ ठ द व लय म मत उलझ झठल ओ मत अपन क त ह र ज दग म थल ह इसम तम जतन म न बन लए ह, व सब क पत ह म न त एक ह ह परम म स मलन उस य र स स थ ह ज ए Page 20 of 324

21 मल सख सत प व त म गल ग इए जगन जगन अ हव त, अख ड स र ज ह उसस ह ज ए ज ड़ त सह ग सद क लए ह ज त ह यह त त ह र सह ग य ह? त ह र सधव और वधव म य क ई बहत फक ह? ज़र भ फक नह ह वधव प त क बन वधव ह और सधव प त क स थ वधव ह, बस इतन ह फक ह यह क द त द क ड़ क ह यह क सब न त - र त झ ठ ह जगन जगन अ हव त... अ हव त य न सह ग सद रह सह ग, ऐस कछ ख ज ल अख ड स र ज ह... फर ज कभ ख डत न ह त ह, ऐस स य ख ज ल पय मल म न द त ह स सम ज ह और उस य र स मलन ह ज ए त सब मल गय, य क म न द मल गय और उसस मलन क ब द ह तम ह स क सम ज क ह स हए नह त तम बगल क स थ ब ठ ह और ह स न बगल क स थ रह-रह कर समझ लय ह क व भ बगल ह जनक स थ रह ग व स ह ह ज ओग तमन सन ह कह न?--एक स हन छल ग लग त थ एक पह ड? स गभ वत थ, ब च म ह ब च ह गय वह ब च न च गर गय न च स भ ड़ क एक झ ड नकल रह थ, वह ब च भ ड़ क स थ ह लय उसन बचपन स ह अपन क भ ड़ क ब च प य, उसन अपन क भ ड़ ह ज न और त ज नन क उप य य थ? इस तरह त तमन अपन क ह द ज न ह, मसलम न ज न ह, ज न ज न ह और त ह र ज नन क उप य य ह? जन भ ड़ क ब च पड़ गए, वह तमन अपन क ज न लय ह इस तरह तम ग त पकड़ ह, कर न पकड़ ह, ब इबल पकड़ ह जन भ ड़ क ब च पड़ गए, व ज कत ब पकड़ थ, वह तमन भ पकड़ ल ह त ह र य व क अभ ज म कह हआ? वह स ह क ब च भ ड़ ह कर रह गय भ ड़ ज स म मय त भ ड़ क स थ घसर-पसर चलत भ ड़ क स थ भ गत और भ ड़ न भ उस अपन ब च व क र कर लय उ ह क ब च बड़ हआ उ ह कभ उसस भय भ नह लग क ई क रण भ नह थ भय क वह स ह श क ह र रह जनक स थ थ, भ ड़ भ गत त वह भ भ गत एक दन ऐस हआ क एक स ह न भ ड़ क इस झ ड पर हमल कय वह स ह त च क गय वह यह द ख कर च कत ह गय क यह ह य रह ह उस अपन आ ख पर भर स न आय स ह भ ग रह ह भ ड़ क ब च म! और भ ड़ क उसस भय भ नह ह ; घसर-पसर उसक स थ भ ग ज रह ह और स ह य भ ग रह ह? उस ब ढ़ स ह क त कछ समझ म नह आय उसक त ज दग भर क स र न गड़बड़ गय उसन कह, यह हआ य? ऐस त न द ख न सन न क न सन, न आ ख द ख उसन प छ कय और भ ड़ त और भ ग और भ ड़ क ब च ज स ह छप थ, वह भ भ ग और बड़ म मय न मच और बड़ घबड़ हट फ ल मगर उस ब ढ़ स ह न आ खर उस जव न स ह क पकड़ ह Page 21 of 324

22 लय वह त म मय न लग, र न लग कहन लग छ ड़ द, मझ छ ड़ द, मझ ज न द म र सब स ग -स थ ज रह ह, मझ ज न द मगर वह ब ढ़ स ह उस घस ट कर उस नद क कन र ल गय उसन कह, म रख! त पहल द ख प न म अपन च हर म र च हर द ख और प न म अपन च हर द ख, हम द न क च हर प न म द ख ज स ह घबड़ त हए, र त हए... आ ख आ सओ स भर ह, और म मय रह ह, ल कन अब मजब र थ, अब यह स ह दब रह ह त द खन पड़... उसन द ख, बस द खत ह एक ह क र नकल गई एक ण म सब बदल गय व तस वर म यक यक आ गए ह क स रत बदल कर रह गई एक ण म त ह गई भ ड़ गई स ह ज थ, वह ह गय ऐस ह तम ह त ह भ ल ह गय ह तम क न ह तमन द त बगल स बन ल ह तमन द त झ ठ स कर ल ह तमन झ ठ क ख ब घर बन लए ह और झ ठ क घर जब तक त ह घर म ल म ह त ह, असल घर क तल श नह ह सकत पय मल म न द, त ह स सम ज ह तब फर एक-दसर ह जगत म त ह र व श ह ग --ह स क सम ज, स क सम ज उसक न म ह म ह ल कन स र ब त क स रस ह --म न म कछ भ नह इस ज दग म खदमत क सव स ज दल -दद आदम यत क सव औ" र ग, नश न, चतर, महर, दह न सब ह च ह, सब ह च ह, मह बत क सव र य- स ह सन, र य-पत क ए, छ, वण छ, र ज-म हर, मकट--सब त छ ह, एक म क सव य इस जगत म म क ई च ज ज न ज स ह त म ह अगर क ई च ज समझन ज स ह त म ह अगर इस जगत कछ भ नह ज दग म खदमत क सव स ज दल -दद आदम यत क सव औ र ग, नश न, चतर, महर, दह न Page 22 of 324

23 सब ह च ह, सब ह च ह, मह बत क सव म न द! म ह और श य ह --अजप ज प बस जह म और त ह र श त मन क मलन ह त ह, वह अजप ज प प द ह त ह त ह करन नह ह त, अपन स ओ क र क न द उठत ह अपन स ओ क र क व न त ह र भ तर उठत ह त ह र प द क हई नह ह त त ह र म ल अ त व स आत ह तम सप स ह त ह उस दन तम ह स क सम ज क ह स द र ह गए उस दन स तम क ड़ कचर क न रह, क ड़ क न रह उस दन स त ह प ख लग गए कह कब र पक र, सन धरमद स ह ह स चल सतल क, प ष क प स ह धरमद स कहत ह क म र ग न ऐस ह कस घड़ म, जब म म न थ और म स भर थ, मझ पक र कर कह थ कह कब र पक र, सन धरमद स ह ह स चल सतल क, प ष क प स ह यह घड़ ह, धरमद स च क मत ज न चल अब ह स चल सतल क! ल कन अप व म च हए, त ह ग पक र सकत ह क बस आ गई घड़, आ ख ख ल! उठ न म र स ज -ह त उठ न बहत द र स म त जर ह जम न कभ म कर हट कभ च म -परनम बस इतन -स ह ज दग क फस न त र इक न ह न स ह ब -हक कत यह र ग फज ए, यह म सम सह न शब -गम सत र भ बझन लग ह म र दल क द ग! क ई ल बढ़ न क ई छ ड़ द न मह ए-मह बत Page 23 of 324

24 बहत ग र स सन रह ह जम न त र य द ह वजह क न - दल ह बड़ ह करम ह, त र य द आन भ य द आ ज ए त भ कहत ह भ क ह क प ह बड़ ह करम ह त र य द आन! त य द भ आत ह त त र ह क प ह, त य द आ गय ह, अ यथ हम र कए त यह भ नह ह सकत थ तम यह आ गए ह म र प स, उस ध यव द द न! उसक ल ए ह आ गए ह त ह र चलत त तम आत ह नह आदम क चल त आदम स स ग म कभ ज ए ह नह ज चल ल त ह अपन, व कभ ज त ह नह ध यभ ग ह व जनक भ तर एक बल आक उठत ह ब ढ़ क तरह और उ ह ल ज त ह स स ग क तरफ थ ड़ -स ल ग ह त इस जगत म ज ग प त ह, जब क सब क हक थ ज गन मगर हक क ह ल ग कह व क र करत ह! धनष-ब ण लए ठ ढ़, य गन एक म य ह इस जगत क हज र-हज र म य - ल भन धनष-ब ण लए खड़ ह त ह र त म त ह शक र बन न क लए यह बहत शक र ह त ह आख ट बन न क लए यह बहत शक र ह स वध न रहन! छन ह म करत बग र... एक ण म बग ड़ ह ज त ह... त नक न ह द य ह और इनम, यह ज म य -म ह, मद-म सर, क म- ध-ल भ क यह ज व त र ह, इनक कस क तम पर दय नह ह छन ह म करत बग र... एक ण म सब अ त य त ह ज त ह ज सतत सजग ह, वह इनस बच प एग झ र- झ र बह बय र, म-रस ड ल ह ज बच गय, जसन अपन क इन ब ण स बच लय -- और बच न क एक ह उप य ह, कछ और करन नह --एक ह ढ ल ह स वध न, सजगत क स व दन र न, वर हन ज ग र! अगर क ई ज ग रह त य च र नह आत ब न कह ह अगर घर म क ई ज ग ह त च र दर रहत ह घर म द य जलत ह त च र दर रहत ह पहर द र सजग ह त च र दर रहत ह ऐस ह ज वन क दश ह त ह र भ तर च तन थ ड़ ज गत रह, पहर पर ह, त न त क म आत ह न ध आत ह मझस ल ग प छत ह क म क क स ज त? म कहत ह तमन ब त ह बग ड़ ल ज तन क सव ल ह नह ह ज तन क मतलब ह क म घस आय, अब तम लड़न क क शश कर रह ह क स घस आय ह, इस य क समझ ल तम म छ त थ त घस आय ह तम ज ग ज ओ त ह र ज गत ह तर हत ह ज एग घर म ल ग ज ग ज त ह, च र भ ग ज त ह Page 24 of 324

25 और ज ज ग ह... झ र झ र बह बय र... उसक ज वन म बड़ श तल हव ए, वग क, बहन लगत ह झ र झ र बह बय र, म रस ड ल ह म त आन लगत ह म क म क मधश ल खल ज त ह स ए-स ए त पत भ नह चलत वग क हव ए आत ह, त ह छ कर भ नकल ज त ह ; मगर पत नह चलत परम म आत ह, त ह र आ ल गन भ कर ल त ह, त भ पत नह चलत कछ खबर ह सक न तर बग र कब बह र आय, कब खज आई पत ह नह चलत सब ह त रहत ह, आदम स य रहत ह पतझड़ भ आ ज त ह, बस त भ आ ज त ह, क यल क क ल त ह, पप ह पक र ल त ह, सब ह त रहत ह ब प ष जगत ह, चलत ह, वद ह ज त ह -- स ए ल ग स ए ह रहत ह तम कब स स ए ह कतन ब प ष त ह र प स स गजर गए! कतन क ण, कतन इ ट, कतन मह मद पक रत रह और गजर गए! कतन धन धरमद स! तम स ए ह रह कछ खबर ह सक न त र बग र कब बह र आय, कब खज आई और त ण घटन घट रह ह वग त ण प व पर उतरत ह परम म तपल अपन ज ल फ कत ह झ र- झ र बह बय र, म-रस ड ल ह च ढ़ न र गय क ड र, क इ लय ब ल ह जसक थ ड़ -स वग क हव क व द लग गय, उस यह हर तरफ स परम म क इश र मलन लग ग क यल ब ल ग त उसक वर म परम म क वर क झलक मलन लग ग फ ल खल ग त उसक र ग म परम म खल म ल म ह ग ध प नकल ग, चटक ग, त परम म नखर ग और चटक ग च द उग ग त परम म उग ग कस क श त आ ख म, कस क म-भर हए आ सओ म, बस उस क झलक दख ई पड़न श ह ज ए ग झ र- झ र बह बय र, म-रस ड ल ह च ढ़ न र गय क ड र, क इ लय ब ल ह पय पय करत पक र पय न ह आय ह Page 25 of 324

26 पय बन स न म दलव, ब लन ल ग क ग ह इस जगत म त तमन पय - पय बहत पक र, मगर पय आय नह त ह र दश पक र क गलत थ म दर स न ह पड़ रह क व बस गए और क व ब लन लग त ह र ज दग म क यल ब ल कह, क व ब ल ह त ह र ज दग म दर ह कह? ख डहर ह गई, कब क ख डहर ह गई! बदल ख! थ ड़ ज ग! अ ध र म थ ड़ सबह क तल श कर क ट म थ ड़ फ ल क ख ज बद लय म थ ड़ च द-न क ख ज कर ठ क दश म बह तम ठ क दश म बह त अभ, इस ण-- झ र- झ र बह बय र, म रस ड ल ह च ढ़ न र गय क ड र, क इ लय ब ल ह सब अभ ह रह ह ऐस नह ह क परम म पहल कभ आय थ प व पर, अब नह आत परम म सद आत रह ह --आत ह रह ह जनन भ ज ग कर द ख लय, उ ह न पहच न लय ज स ए रह, व स ए रह क ग ह तम क र, कय बटव र ह क ओ न ब ठक न कर दय ह पय मलन क आस, बह र न छ ट ह यह स र जगत एक ख डहर ज स ह, जह क यल त हट गय ह और क व ब ठ गए ; जह ठ क अ व क त ह गय ह और गलत व क त ह गय ह ; जह धम तर हत ह गय ह और जह अधम ज वन क श ल बन गय ह ज ग त ख डहर फर म दर ह ज त ह श यद ख डहर कभ हआ ह नह थ, ख डहर म ल म ह न लग थ हम र आ ख म ह कछ भ ल-च क ह गई थ श यद क ए कभ बस ह नह थ ; हम र क न ह खर ब ह गए थ, वक त ह गए थ और क यल क आव ज हम क ओ क आव ज म ल म ह न लग थ ज गत ह त घटत ह य कसक अ क थ ज बन गए तब सम -गल य कसक दल क तम न, बह र ह क रह और तब भर स भ नह आत क यह क स हआ! आ स फ ल बन ज त ह दल क भ तर क अभ स बस त ह ज त ह कह कब र धरमद स, ग स ग च ल ह Page 26 of 324

27 यह त घटत ह, जब ग और च ल क स थ ह ज त ह ; जब ग और श य क स थ ह ज त ह ; जब ग और श य क मलन ह ज त ह और मलन ब हर-ब हर क नह, ब हर क ह त मलन नह ह ल म ल कर स स ग... ह ल म ल श द बड़ य र ह इसक मतलब ह ग कछ तम म व श कर ज ए, तम कछ ग म व श कर ज ओ ह ल म ल कर स स ग... ऐस ग दर रह, तम दर रह, ऐस ब च म फ सल रह, त स स ग नह ह त स स ग म त स म टट ज त ह स स ग वह ह, जह स म नह ह ; जह श य भ ल ह ज त ह क म श य ह ग त ज नत ह नह क ग ह, इस लए ग ह जब श य भ नह ज नत क म श य ह द न हल मल ज त ह जह द न क ब च क सब द व र गर ज त ह द न क रस एक-दसर म उतर ज त ह यह ज वन क अप व घटन ह इसस मह न और क ई आ ल गन नह और इसस गहर क ई स भ ग नह ह! कह कब र धरमद स, ग स ग च ल ह ह ल म ल कर स स ग, उत र चल प र ह हल मल स स ग ह ज ए, त बस प र उतरन ह ज ए इस भवस गर स प र उतरन ह ज ए स ज -उ म द बज न मए-श क सन त र इक और लग दद - दल और बढ़ द ख ल आज फज स गर -श क उठ क लय उ म द क चन द मन दल क सज म र गम कछ भ न कर Page 27 of 324

28 अपन अफस न सन आज गमग न ह दल म र ज म क ह स कछ बत भ त मझ य हआ मझस खफ? त र एक और लग! दद - दल और बढ़! श य यह म गत ह त र इक और लग! दद - दल और बढ़! कर च ट श य कहत ह म र मझ मट ओ मझ अपन बन ओ मझ उतर म र भ तर, म ब ध न द ग और म ब ध भ द त सनन मत तम म र सनन ह मत तम मझस खफ मत ह ज न म र गलत आदत ह, गलत स क र ह कई ब र म न र ज ह ज ऊ ग, तर ध क ग, वर ध क ग -- च त मत करन तम च ट कए ह ज न तम मझ पक र ह ज न म करवट ल कर स ज ऊ त पक र ब द मत कर द न म र भ ल क हस ब मत करन म र ब वज द मझ जग न कह कब र धरमद स, ग स ग च ल ह ह ल म ल कर स स ग, उत र चल प र ह स स ग प रस-प थर ह, जसक छ त ल ह स न ह ज त ह ग त उपल ध ह, र ज ह ल ट ल जतन उस ल टन ह! मगर ल ग इतन क ज स ह गए ह क द न म ह क ज स नह ह गए ह, ल न तक म क ज स ह गए ह ऐस ह ज त ह, जसन द न छ ड़ दय वह ल न म भ क पण ह ज त ह वह ल न म भ डरन लगत ह क कह ल न म कछ द न न पड़! कह ल कर कछ द न न पड़! ल ल आज त कह प१३२र द न न पड़! ग क कछ भ च हए नह तम ल ल --और ग आभ र ह स स ग घट ज ए त तम प र ह ज ओ स स ग घट त बह र आए चमन म ज -उ स -बह र ह, आ ज उ स -न म सर -आबश र ह, आ ज हर-एक ज बश गल म हज र न म ह हर-इक नस म क झ क बह र ह, आ ज Page 28 of 324

29 स रब श घट ओ क म त स य म जम ल -ल ल-ओ-गल त बद र ह, आ ज र वश-र वश प छड़ ह हद स -ल ल-ओ-गल कल -कल क त र इ तज र ह, आ ज तझ खबर भ ह इस म सम -बह र म भ "शम म" न वक -गम क शक र ह आ ज श य पक रत ह श य र त ह श य झकत ह ग भ पक रत ह ग भ बहत ह ग भ झकत ह ज सस क वद ई क ण, उ ह न अपन श य क चरण छ ए एक श य न प छ यह आप य करत ह? हम आपक चरण छ ए, ठ क; आप हम र चरण छ ए, यह आप य करत ह? ज सस न कह त क त ह य द रह क जब श य और ग एक-दसर म झक ज त ह, तब मलन ह तब स स ग ह स स ग म न व ह यह न व उस प र ल ज सकत ह क स व दन र न, वर हन ज ग र! आज इतन ह य आपक द शन नगद धम क ह? हर ण भगव भ गन क ह? य आप भ क भ नगद धम क स द ग? म र व ण तम बन र ए, मधर मलन कब ह ए? बहत स र उठत ह, श द नह मलत ह य प छ? स स ग क म हम समझ न क अनक प कर यह बत न क क प कर क उपल ध ह न क ब द भ जन ल न भ शर र क म ह ह? य उपल ध ह ज न क ब द भ जन क बन ज वन चल सकत ह? पहल य आपक द शन नगद धम क ह? हर ण भगव भ गन क ह? य आप भ क भ नगद धम क स द ग? अनक प कर और हम कह धम त सद ह नगद ह त ह उध र और धम, स भव नह उध र धम क न म ह अधम ह और उध र धम बहत च लत ह प व पर म दर-म जद म जस तम प त ह, वह उध र धम ह Page 29 of 324

30 उध र स अथ ह अनभव त ह र नह ह, कस और क ह कस र म क हआ अनभव य कस क ण क य कस इ ट क, तमन सप म न लय ह तमन ज नन क म नह उठ य म नन बड़ स त ह, ज नन मह ग ब त ह ज नन क लए क मत चक न पड़त ह और जब क मत चक त ह तभ धम नगद ह त ह और क मत भ र ह -- ण स चक न ह त ह उध र धम ब कल स त ह ग त पढ़, मल ज त ह ब इ बल पढ़, मल ज त ह उध र धम त च र तरफ द न व ल ल ग म ज द ह म -ब प स मल ज त ह, प डत-पर हत स मल ज त ह नकद धम दसर स नह मलत नगद धम क वय क भ तर ह कआ ख दन पड़त ह, गहर खद ई करन पड़त ह ल ब य ह अ तय, य क बहत दर हम नकल आए ह अपन स ज म -ज म हम अपन स दर ज त रह ह अब अपन प स आन इतन आस न नह और हमन हज र ब ध ए ब च म खड़ कर द ह हम भ ल ह गए ह क हम अपन क कह छ ड़ आए कछ पत - ठक न भ नह ह, क कह ज ए ग त अपन स मलन ह ग कभ अपन स मलन रह भ ह, इसक भ क ई य त नह बच ह व म त क पह ड़ खड़ ह गए ह नगद धम क अथ ह त ह इन स र पह ड़ क प र करन ह ग और य पह ड़ ब हर ह त त हम प र आस न स कर ल त य पह ड़ भ तर ह -- वच र क, भ वन ओ क, प प त क, ध रण ओ क और यह खद ई ब हर करन ह त त बहत क ठन नह थ ; उठ ल त कद ल और ख द द त यह खद ई भ तर करन ह य न क कद ल स ह ह सकत ह और य न क कद ल ब ज र म नह मलत ; वय न म त करन ह त ह ; इ च-इ च म स बन न ह त ह धम त सद ह नगद ह त ह --अथ, क धम सद ह व नभव स ह त ह, आ म-अनभ त स ह त ह त ज उध र ह, उस अधम म न ल न म न तक क अध म क नह कहत, खय ल रखन न तक धम -श य ह, अध म क नह ह धम क अभ व ह अध म क त म कहत ह ह द क, मसलम न क, ईस ई क, ज न क, स ख क, जसन दसर क म नकर अपन ख ज ह ब द कर द ह ; ज कहत ह "हम य ख ज कर? ब ब न नक ख ज कर गए हम य ख ज कर? कब रद स ख ज कर गए " और ऐस नह ह क न नक न और कब र न, द द न और र द स न स य नह प य थ -- प य थ, ल कन अपन भ तर ख द थ त प य थ तम अगर सच म ह न नक क म करत ह त उस तरह अपन भ तर ख द ज स उ ह न ख द तम अगर सच म ह क ण क अनग म ह त क ण क प छ मत चल यह ब त त ह ब ब झ लग ग, य क अनगमन क अथ ह त ह प छ चलन म र भ ष म अनगमन क अथ ह त ह व स चल ज स क ण चल क ण क प छ मत चलन, य क क ण कस क प छ नह चल क ण क प छ चल Page 30 of 324

31 त तम क ण क अनगमन नह कर रह ह क ण कस क प छ नह चल क ण अपन भ तर चल तम भ क ण क भ त ह अपन भ तर चल अगर ल ग समझ ल स ओ क, त स ओ क प छ नह कर ग उनक समझत ह, उनक इश र खय ल म आत ह, अपन भ तर डबक म र ज ए ग वह प य ज त ह ह र धम क नह त तम क ड़ -करकट बट र रह ह कतन ह य द कर ल व द और कतन ह क ठ थ कर ल उप नषद, त ह र ह थ कछ भ न लग ग, ख ल क ख ल रह ग उध र धम क अथ ह त ह प ड य नगद धम क अथ ह त ह अनभव तम प छत ह " य आपक द शन नगद धम क ह?" ज ह न भ ज न ह, सभ क द शन नगद धम क ह आदम ब ईम न ह आदम जस च ज स बचन च हत ह उसक झ ठ स क प द कर ल त ह उस तरह स दसर क भ ध ख ह ज त ह ; और भ बड़ ब त ह ज त ह, अपन क ह ध ख ह ज त ह तम द ख, त ह अगर म करन ह त तम खद म करत ह तम यह नह कहत क ब ब मजन कर गए, अब हम य करन ह? सब त ह चक बड़ -बड़ म ह चक सब ख ज ज चक ह अब हम य करन ह? हम त ल ल -मजन क कत ब पढ़ ग हम त ल ल -मजन क कत ब क ठ थ कर ग हम त र ज सबह उसक प ठ कर ग हम म य करन ह? नह, ल कन त ह म करन ह त तम मजन क कत ब नह पढ़त, न फ रय द क य द करत ह तम खद म करत ह त ह धन ख जन ह, त तम अत त म हए ध नय क न म नह ल त, तम खद धन क ख ज म नकलत ह वह तम ब ईम न नह करत धम क य त ह करन नह ह, मगर द नय क तम दख न च हत ह क ऐस भ नह ह क म ध म क नह ह त तम तरक ब नक लत ह तम कहत ह म ब क प छ चल ग, म ध मपद क ठ थ क ग म जरथ क म न ग म इ ट क प ज क ग म क ण क फ ल चढ़ ऊ ग म म दर म झक ग म क ब म आऊ ग ग ग - न न कर ल ग तम इस भ त द नय क भ ध ख द ल त ह और खद भ ध ख म पड़ ज त ह ध र -ध र त ह ऐस लगन लगत ह क अब और य च हए, धम त ह ह क श भ ह आत ह, ग ग - न न भ कय, कत ब भ पढ़त ह, च दन- तलक भ लग त ह, जन ऊ भ ध रण करत ह, च ट भ बढ़ रख ह --अब और य च हए? नह, त ह धम च हए ह नह, इस लए तमन य स र तरक ब ईज द क ह अगर धम त ह च हए त तम कह ग मझ क स अनभव ह? म दर म ज वर ज परम म ह, वह म र क म न आएग म र भ तर क स वर ज? और कहत ह ल ग क म र भ तर वर ज ह -- और मझ उसक पत नह ह -- और म म दर म ख ज रह ह! Page 31 of 324

32 नगद धम भ तर ल ज त ह नगद धम क तल श आ ख ब द करक ह त ह नगद धम क तल श वच र स नह ह त, न व च र स ह त ह ; श स नह ह त, सब श स म ह ज न स ह त ह श द स ह म ह ज न ह, त श म क स ब ध ग? श त श द क ह ज ल ह कतन ह य र ह श द, श द श द ह जब त ह भ ख लगत ह त श द "भ जन" स प ट नह भरत और जब त ह य स लगत ह त एच० ट ० ओ० क फ म ल ल कर तम ब ठ रह, य स नह बझत और ऐस नह ह क एच० ट ० ओ० क फ म ल गलत ह वह प न क बन न क स ह और ऐस भ नह ह क प क-श म ज भ जन क व धय लख ह व गलत ह मगर भ जन क व धय स य ह ग? भ जन पक ओग कब? च ह जल ओग कब? बत न चढ़ ओग कब? और त ह र भ तर सब म ज द ह भ जन पक न ह त अभ पक सकत ह ल कन तम भ ख ह और प कश क कत ब लए ब ठ ह --कहत ह "जपज " पढ़ रह ह प क-श ह त ह र सब कत ब और म यह नह कह रह ह कत ब मत पढ़ म यह कह रह ह उतन भर पर क मत ज न कत ब पढ़न स इतन ह ह ज ए क त ह य द आ ज ए क अर, ऐस स य भ ल ग क अनभव हए ह, ज मझ अब तक अनभव नह हए! ऐस -ऐस स य ल ग प कर गए ह इस प व पर--और म बन प ए ज रह ह बहत द र ह चक ह अब ज गन क ण आ गय ऐस भ बहत द र ह चक ह अब ख ज, ख द अब अपन क प त रत क अब त स गज अब भ जन पक ऊ ल ग कहत ह, जल क सर वर ह ल ग कहत ह, हम मह त ह गए ह प कर म य स ह और जब स दय -स दय स इतन ल ग न कह ह क जल मलत ह, हम मल गय ह --ब क कह, मह व र न कह --त म भ ख ज मगर ख ज स मलत ह, कस पर व स कर ल न स नह मलत अनभव ह एकम र ह परम म क इस लए सभ धम नगद ह त ह ध म क, जनक तम कहत ह, व नगद नह ह, यह म ज नत ह व ब कल उध र ह इस लए त द नय म धम क ब तच त बहत ह त ह और धम क सग ध ज़र भ पत नह चलत द नय म कतन म दर, म जद, ग र, गरज ह, और कह भ धम क ग त नह उठ रह ह हव म धम क खबर नह म ल म ह त प व धम स श य म ल म ह त ह इन अध म क स -- जनक तम ह द कहत ह, मसलम न कहत ह, ईस ई कहत ह -- न तक ब हतर ह य कहत ह म क न तक ब हतर ह? कम-स -कम झ ठ म त नह पड़ ह और ज झ ठ म नह पड़ ह, ज कत ब म नह उलझ गय ह, ज श द क ज ल म नह ड ब गय ह, उसक ज गन क स भ वन य द ह, य क कब तक भ ख रह ग? कब तक य स रह ग? उसक य स खटक ग, गल जल ग, भभक उठ ग उसक भ ख उसक प ट म कड़क ग, उसक आ म र एग ज कहत ह, म न ई र क नह ज न, इस लए क स म न --वह यह त कह रह ह न क जब ज न ग तभ म न ग और य कह रह ह? न तक सप इतन ह त कह रह ह न, Page 32 of 324

33 जब म र अनभव ह ग तब म व क र कर ल ग ; अभ म र अनभव नह ह, मझ अभ म ण च हए अभ मझ अनभव क म ण च हए म र आ ख खल ग त म क श क म न ल ग जसन आ ख ब द कए ह क श म न लय ह, वह आ ख क इल ज नह करव एग ज रत न रह ब त ह ख म ह गई ल कन जसन आ ख क अभ व म क श क नह म न ह, उसक यह ब त प ड़ द त रह ग क म अ ध ह ल ग कहत ह क श ह, मझ नह दख ई पड़त, त न त म अ ध ह म कछ क व क ख ज, जह म र आ ख क इल ज ह सक, जह म भ द ख सक --क ई उपच र, क ई औष ध कस न तक आज नह कल आ तक ह ग ह --ह न ह पड़ ग! खतर त झ ठ आ तक क ह व कभ आ तक नह ह प त जब भ म र प स क ई न तक आ ज त ह, म स न ह त ह एक ईम नद र आदम आय ह ; जसन भर स दसर पर नह कए ह ; जसक एकम न अपन अनभव पर ह ; जस म ण नह मल ह अभ त अभ चप ह ; य कहत ह क अभ म नह म न सकत ह ; ज व द ल ग त ह "ह " भर ग ज आदम ऐस ह लत म ह उस व द दलव य ज सकत ह क ठन ई त उन झ ठ क स थ ह क ज ह कछ पत नह और ज कहत ह, ह, ई र ह खतर त इन ज -हज र क स थ ह, ज ह ज़र भ कभ क ई वर नह सन य पड़ ह और ज थ थ ह ड लत ह, ज स उनक ऊपर स ग त क वष ह रह ह! यह झ ठ दसर क ह न त कर ग ह, मगर सब स बड़ ह न त अपन ह ऐस झ मत - झ मत -झ मत झ मन क आदत ह ज एग म दर म झकत -झकत झकन क आदत ह ज एग और झकन क आदत ह गई त झकन क मज गय, झकन म ण न रह, स ज वन न रह झकन सच न रह झकन म समप ण न रह झ ठ मत झकन और झ ठ "ह " मत भरन न तक स भ य द और एक ईम नद र आदम ह त ह, जसक अ यव द कहत ह, ए न टक कहत ह ए न टक य अ यव द क अथ ह त ह क मझ अभ पत नह ह, त न त म "ह " कह ग और न "न " कह ग त च र तरह क ल ग ह प व पर एक--ज ज न कर कहत ह दसर --झ ठ, ज दसर क सन कर त त क तरह द हर न लगत ह त सर -- ज ह न ज न नह ह, इ क र करत ह च थ -- ज ह न, ज न नह ह त न "ह " भरत ह न "न " करत ह ; व कहत ह, अभ हम क ई भ व य नह द सकत यह सबस य द ईम नद र आदम ह च थ ; इसक सबस य द स भ वन ह आ तक ह ज न क फर न बर द क स भ वन न तक क ह और न बर त न क स भ वन त ह र तथ क थत थ थ आ तक क ह ; वह सबस गहर गत म ह उध र धम स बचन, अगर नगद धम क प न ह और नगद ह त ल एग प छ तमन य आपक द शन नगद धम क ह? हर ण भगव भ गन क ह? Page 33 of 324

34 भगव न तम ह भगव न तम म आय हआ ह तम भगव न क एक लहर ह, एक तर ग ह यह म र ह यह म र अनभव तमस कह रह ह इस तम म न मत ल न त ह र म नन स कछ हल नह ह ग तम म र ब त पर ह मत क ज न इसस सप इश र ल न इश र ल न इस ब त क क अगर म कहत ह त चल, हम भ ख ज कर और द ख य यह सच ह? इसक बन न यह त ह र भ तर ज स बन, व स नह स क क म ह ज स क जग न द खत नह श ड य क स श हए अथ त भ ज स! ब दर यण क स श ह त ह अथ त ज स! ज स स य अ त श श ह त ह स ज स द त ह --उ कट ज स द त ह, गहन ज स द त ह झकझ र द त ह और त ह र भ तर य स क उठ त ह --त ह र य स क उठ त ह ; त ह र य स क नख रत ह त ह स त ष नह द त, य क सब स त ष झ ठ ह त ह अस त ष द त ह, य क अस त ष स ग त ह, वक स ह स वन ए खतरन क ह, जहर ल ह ल कन तम स वन क तल श म ह त ह तम च हत ह क ई कह द, खल न ज स त ह क ई पकड़ द स त और तम उ ह छ त स लग कर ब ठ ज ओ इस लए ल ग स स बचत ह, अस य र लगत ह म य ग ख ब पजत ह ; भ ड़ वह इक ठ ह ज त ह स क प स त कछ ह मतवर ल ग ह ज त ह वह चन, ह मतवर ल ग क क म ह वह स ह सय क क म ह वह आग स ख लन ह उसक मतलब ह ह इतन क अब तम उस आदम क प स ज रह ह ज त ह इतन अस त कर द ग क त ह परम म क य पर नकलन ह ह ग ; ज त ह र य स क ऐस भड़क एग क त ह सर वर ख जन ह पड़ ग --च ह क ई भ क मत चक न पड़, च ह ज वन क क मत ह य न द न पड़ वह त ह ऐस य स द ग ज ज वन स भ य द मह वप ण ह, ज वन भ ब लद न कय ज सकत ह ल ग स वन च हत ह ल ग म य स डर ह व च हत ह क ई समझ द क आ म अमर ह ल ग च हत ह क क ई समझ द क परम म हम र स र च त - फ कर रह ह ल ग च हत ह क क ई समझ द क ज बर हआ ह, वह पछल ज म क कम क क रण ह, उसस पछल ज म क कम भ कट गए, बर स झ झट भ मट गई, अब बस शभ ह न क दन आ रह ह क ई कस तरह स समझ द क हम ज स ह ब कल ठ क ह, कह कछ ख स करन क ज रत नह ह क ई पकड़ द र म-न म, क बस सबह उठत, स त द हर ल न द -च र ब र, सब ठ क ह ज एग क ई स त औष ध द -द क ई कह द क मरत व भ अगर र म क न म ल लय त बस प र ह ज ओग स यन र यण क कथ सन ल न और प र ह ज ओग कभ भजन-क त न करव ल न घर म और प र ह ज ओग कभ म दर म भ ग लग आन और प र ह ज ओग कभ पड़ सय क ब गय स फ ल त ड़ ल न और म दर म चढ़ आन और प र ह ज ओग Page 34 of 324

35 फ ल भ त ह र नह ह --व भ पड़ स क ब गय क! फ ल त चढ़ ह थ परम म क, व पर--बहत य र प स चढ़ थ! तम त ड़कर उनक म र ड ल और तम ज कर प थर पर चढ़ आए फ ल क प थर पर चढ़ रह ह? बदल ह लत, प थर क फ ल पर चढ़ ओ! प थर मद ह, फ ल ज व त ह ज वन क मद पर चढ़ त ह? मद क ज वन पर चढ़ ओ ल कन स त उप य--स वन, स त ष मल ज ए ज दग म व स ह अस त ष बहत ह धन नह मल, पद नह मल, त नह मल, सफलत नह मल, यश नह मल, न म नह मल स क प स ज ओग, वह कह ग यह अस त ष त कछ भ नह ह ; असल अस त ष त अभ जग ह नह -- क परम म नह मल तम गए थ तकल फ ल कर क कस तरह आश व द द क पद मल ज ए, त मल ज ए, धन मल ज ए, यश मल ज ए, आपक आश व द ह त य नह ह सकत! ल कन स तम स कह ग क यह त सब बकव स ह, अभ असल ब त त त ह खय ल म नह आय क परम म नह मल अभ तम ह तम क नह मल त और त ह य मल ग? अ छ आ गए, अब म त ह नई य स द त ह, नई ज स द त ह अपन क प न म लग म य ग आश व द द द ग, त ब ज द द ग, म द द ग क घबड़ ओ मत, इस म क पढ़न स अगल चन व म न त ज त ज ओग तम द खत ह, द ल म त ह र हर न त क य तष ह! त ह र बड़ स बड़ न त भ इतन बचक न ह जसक क ई हस ब नह हर बड़ न त य तष स प छत ह क कब न म कन- प भरन ह, कस शभ महत म, कस घड़ म? इस ब र चन व म ज त ग क नह ज त ग? तथ क थत ग ओ क प स आश व द क लए ज त ह एक न त भ ल स म र प स आ गए आय आश व द ल न क लए क चन व म खड़ ह गय ह, आपक आश व द च हए त म न कह, म र आश व द ह क न त ह र ज ओ य क ज ज त गए व भटक ज त ह ह र ग त श यद परम म क य द आए ज त त द ल म ड ब मर ग, र जघ ट पर पड़ ग ज द ह द र-अब र ह र ज ओ त द ल स बच ज ओ और न कह गए ह ह र क ह रन म व त बहत घबड़ गए व कहन लग क आप क स अपशकन क ब त कह रह ह! उनक त पस न आ गय उ ह न कह ऐस मत क हए, नह -नह ऐस मत क हए आप य मज क कर रह ह? उनक घबड़ हट हई क यह म कह आ गय! क ई ऐस त कहत नह कस स क तम ह र ह ज ओ पर म न कह अब आ ह गए ह त आश व द द ग ह तमन म ग त म द ग म वह आश व द द सकत ह ज सच म आश व द ह चन व म ज त कर कर ग य? ग लय ख ओग? चन व म ज त कर कर ग य? अह क र क थ ड़ और मज आ ज एग जतन अह क र क मज आएग उतन परम म स दर पड़ ज ओग तम अ भश प म ग रह ह मझस? Page 35 of 324